Randhir Singh

I am Randhir Deswal From Rohtak Haryana. I am a writer and a history student.

डागर जाट गोत्र का इतिहास

डागर जाट गोत्र का इतिहास

डागर जाट गोत्र का इतिहास यदुवंशी श्रीकृष्ण जी की चौथी पीढ़ी में बृज की परम्परा में जाड़ेचा और यदुमान नाम के दो भाई थे। इनमें… Read More »डागर जाट गोत्र का इतिहास

तंवर, आन्तल, रावत, राव या सराव गोत्र का इतिहास

तंवर, आन्तल, रावत, राव या सराव गोत्र का इतिहास

तंवर, आन्तल, रावत, राव या सराव गोत्र का इतिहास आन्तल जाट गोत्र जो कि वैदिक कालीन तंवर या तोमर जाटों की शाखा है। ये तंवर… Read More »तंवर, आन्तल, रावत, राव या सराव गोत्र का इतिहास

रघुवंशी जाट गोत्र का इतिहास

रघुवंशी जाट गोत्र का इतिहास

रघुवंशी जाट गोत्र का इतिहास सूर्यवंश में महाराजा दशरथ के दादा रघु हुए जिनकी प्रसिद्धि के कारण उनके नाम पर सूर्यवंशी क्षत्रियों का संघ रघुवंशी… Read More »रघुवंशी जाट गोत्र का इतिहास

गहलावत जाट गोत्र का इतिहास

गहलावत जाट गोत्र का इतिहास

गहलावत जाट गोत्र का इतिहास ब्रह्मा जी के पुत्र दक्ष प्रजापति की 13 कन्याओं का विवाह सूर्यवंशी महर्षि कश्यप के साथ हुआ था। उनमें से… Read More »गहलावत जाट गोत्र का इतिहास

राणा जाट गोत्र का इतिहास

राणा जाट गोत्र का इतिहास

राणा जाट गोत्र का इतिहास सूर्यवंशी बाल या बालियान जाट गोत्र की कई शाखाओं में सिसौदिया और राणा शाखा भी है। इस बलवंश का शासन… Read More »राणा जाट गोत्र का इतिहास